​​​​​​​जिले वासियो का वर्षो पुराना सपना हुआ साकार, 22 फरवरी को मिलेगी बड़ी सौगात

The year-old dream of the residents of the district came true, there will be a big gift on February 22

​​​​​​​जिले वासियो का वर्षो पुराना सपना हुआ साकार, 22 फरवरी को मिलेगी बड़ी सौगात
रिपोर्ट। दुर्गेश नरोटे, छिंदवाड़ा

जिले वासियो का वर्षो पुराना सपना हुआ साकार, 22 फरवरी को मिलेगी बड़ी सौगात

छिंदवाड़ा। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने आखिरकार छिंदवाड़ा वासियों को बड़ी सौगात दे दी।छिंदवाड़ा-इतवारी तक कुल 149 किमी रेलमार्ग पर 22 फरवरी से ट्रेन का परिचालन किया जाएगा। बता दें कि छिंदवाड़ा से इतवारी तक नैरोगेज का परिचालन होता था। इसके बाद वर्ष 2005-06 में ब्राडगेज लाइन का प्रस्ताव स्वीकृत हुआ। हालांकि जमीन अधिग्रहण सहित अन्य प्रक्रिया पूरी करने में समय लगा। इसके बाद वर्ष 2015 में नैरोगेज का परिचालन बंद किया गया और गेज कन्वर्जन का कार्य शुरु हुआ। छिंदवाड़ा से इतवारी तक(149 किमी) का कार्य चार खंड में किया गया है। इसमें पहला खंड छिंदवाड़ा से भंडारकुंड, दूसरा खंड इतवारी से केलोद, तीसरा खंड केलोद से भिमालागोंदी तक पूरा किया गया है। इसके बाद सीआरएस के अप्रवूल के बाद इस खंड में ट्रेन का परिचालन शुरु हुआ। हालांकि चौथा खंड भंडारकुंड से भिमालगोंदी कुल 20 किमी घाट सेक्शन होने में गेज कन्वर्जन का कार्य काफी धीमी गति से हुआ। वर्ष 2020 में इस सेक्शन का कार्य भी पूरा किया गया और सीआरएस ने निरीक्षण किया और पहले चार माह इस सेक्शन में मालगाड़ी परिचालन के लिए कहा था। जिसके समय-सीमा फरवरी 2021 में पूरी हो गई है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने 22 फरवरी से छिंदवाड़ा से इतवारी तक ट्रेन परिचालन का निर्णय लेते हुए समय-सारणी जारी कर दी। इतवारी से सुबह ट्रेन चलेगी और दोपहर में छिंदवाड़ा पहुंचेगी और फिर एक घंटे बाद छिंदवाड़ा से रवाना होकर शाम को इतवारी पहुंचेगी।