खबर का असर - 24 घंटे के अंदर D.P.M की नियुक्ति हुई निरस्त - देखे पूरी खबर

The impact of the news - D.P.M appointment canceled within 24 hours

खबर का असर - 24 घंटे के अंदर D.P.M की नियुक्ति हुई निरस्त - देखे पूरी खबर
रिपोर्ट - ब्यूरो शोभित घारू, जबलपुर

खबर का असर - 24 घंटे के अंदर D.P.M की नियुक्ति हुई निरस्त - देखे पूरी खबर 

जबलपुर से इस वक़्त की बड़ी खबर

CTN भारत न्यूज़ जबलपुर ने पूर्व में आशा कार्यकर्ताओं से पैसे लेकर भर्ती करने वाले पूर्व में सस्पेंड रहे (D.C.M) प्रवीण सोनी को नए प्रभार दिए जाने को लेकर खबर प्रकाशित की थी।जिसमे तत्कालीन C.M.H.O जबलपुर डॉ रत्नेश कुररिया ने पदभार संभालते ही भ्रस्टाचार में लिप्त प्रवीण सोनी को डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम मैनेजर (D.P.M) की नई जिम्मेदारी सौपी थी।

जिसके बाद से ही स्वास्थ्य महकमे में खलबली सी मच गई थी।और जानकारों की माने तो दबी जुबान में यह तक कहा जा रहा था कि अपने चहेतों की भर्ती करने अब अधिकारियों में किसी भी तरह का ख़ौफ़ नही रहा।

और बात सही भी है,कि सैया भये कोतवाल तो डर काहेका


यहां पर प्रवीण सोनी की फ़ोटो आप ज़रूर लगा देना

आपको बता दे ये वही प्रवीण सोनी है जो पहले D.C.M के पद पर आसीन थे और इन पर अपने ओहदे की इतनी खुमारी थी कि इन्होंने बिना किसी डर के आशा कार्यकर्ताओं की भर्ती कर डाली वो भी अच्छी खासी मोटी रकम लेकर,जिसका खुलासा होते ही तत्कालीन कलेक्टर जबलपुर ने इन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए ज्यूडिशियल ज़ाच के आदेश जारी किए गए थे।जिसकी ज़ाच अभी तक चल रही है।

जबलपुर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.रत्नेश कुररिया (C.M.H.O) के द्वारा जैसे ही भ्रष्टाचार में लिप्त प्रवीन सोनी को नया (D.P.M) बनाए जाने की खबर लगी तो C.T.N भारत न्यूज़ ने प्रमुखता से पूर्व से सस्पेंड रहे प्रवीण सोनी के भ्रष्टाचार के काले कारनामो का खुलासा C.T.N भारत की खबर के माध्यम से किया था जिसमे प्रवीण सोनी को 20 जनवरी 2020 में आशा कार्यकर्ताओं की भर्ती में पैसे लेकर करवाने के आरोपो को सही पाए जाने पर सस्पेंड कर दिया गया था।

C.T.N भारत न्यूज़ के सवाल क्या थे

सवाल नंबर 1:- क्या नवागत मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी इस बात से अनजान थे कि पूर्व D.C.M प्रवीण सोनी पर आशा कार्यकर्ताओं से पैसे ले लेनदेन के चलते ज्यूडिशल जांच चल रही है ?

सवाल नंबर 2:- क्या जानबूझ कर अनदेखी करते हुए प्रवीण सोनी को इतना बड़ा पदभार दिया गया ?

सवाल नंबर 3:- क्या प्रवीण सोनी की नवीन पदस्थापना की नियुक्ति जबलपुर कलेक्टर भरत यादव की जानकारी में की गई ?

C.T.N भारत न्यूज़ की खबर का असर

खबर का असर यह हुआ कि 24 घंटे के अंदर प्रवीण सोनी की नियुक्ति को निरस्त कर दिया गया,और D.P.M का नया प्रभार डॉ सुलभ अग्रवाल को सौपा गया है।