प्रधानमंत्री मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, कोरोना केसों पर जताई चिंता, प्रतिबंधों पर दिए ये निर्देश

Prime Minister Modi's meeting with Chief Ministers, expressed concern over Corona cases, these instructions on restrictions

प्रधानमंत्री मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, कोरोना केसों पर जताई चिंता, प्रतिबंधों पर दिए ये निर्देश
CTN भारत, डेस्क रिपोर्ट

प्रधानमंत्री मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, कोरोना केसों पर जताई चिंता, प्रतिबंधों पर दिए ये निर्देश

नई दिल्ली। देश में कोरोना के बड़े मामले के बीच तीसरी लहर (third wave) को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को 6 राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ बैठक की। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि  जैसे देश में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। यह हमारे लिए चेतावनी है। हमें अभी से ही सचेत रहने की आवश्यकता है।

>कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए केंद्र सरकार लगातार राज्य से संपर्क में है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समीक्षा बैठक की। शुक्रवार को समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल सहित छह राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ वार्ता की। पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि कोरोना के बढ़ते केस चिंता का विषय है। लंबे समय से Corona के बने रहने से नए Varient का खतरा बढ़ जाता है जिससे हमें बचाव की आवश्यकता है। हम तीसरी लहर के मुहाने पर खड़े हैं और अगर हमने सतर्कता नहीं बरती तो हालत बद से बदतर हो जाएंगे। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लगातार बढ़ रही भीड़ पर राज्य सरकार को प्रतिबंध लगाने की जरूरत है ताकि कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि स्थिति को काबू में करने के लिए हमें माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ध्यान देने की जरूरत है। सभी राज्य सरकार इस संकट के वक्त में एक दूसरे से सीखने का प्रयास करें। पूर्वोत्तर के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा के दौरान दूसरी लहर को देखते हुए लॉकडाउन नहीं किया गया था लेकिन माइक्रो कंटेनमेंट पर ध्यान दिया गया था। जिसके कारण स्थिति को संभालने में पूर्वोत्तर राज्य कामयाब रहे थे।

समीक्षा बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि महाराष्ट्र, केरल जैसे राज्य में corona के नए वेरिएंट से बने रहे मामले चिंताजनक है। हमें एक बार फिर से टेस्ट, ट्रैक और टीके की राजनीति पर आगे बढ़ना होगा। समीक्षा बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वैक्सीनेशन काफी महत्वपूर्ण है।RT-PCR तकनीक पर जोर देने की जरूरत है और इसके साथ ही सभी राज्यों के मुख्यमंत्री को आईसीयू Bed बढ़ाने चाहिए। टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने के केंद्र सरकार की तरफ से फंड आवंटित किया जा रहा है। राज्य सरकार इसका इस्तेमाल कर एक्शन के साथ ऑक्सीजन प्लांट लगाने की भी पूरी व्यवस्था करें।

पीएम मोदी ने कहा कि यूरोप जैसे देश में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। अमेरिका में भी केसों के बढ़ने की संख्या रिकॉर्ड की गई है। ये हमारे लिए चेतावनी है। बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए पूरी तैयारी करनी होगी। साथ ही सार्वजनिक जगह पर बढ़ रही भीड़ को रोकना होगा। बता दे कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उड़ीसा, महाराष्ट्र और केरल के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर रहे थे। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और स्वास्थ्य मंत्री मनसुखभाई मांडवीया भी शामिल थे।